Celebrity Net Worth Kya hai Bitcoin ka Future

Kya hai Bitcoin ka Future

0 Comments

Cryptocurrency

अगर आप लोग Bitcoin या Crypto में निवेश कर चुके हैं या निवेश करने की सोच रहे हैं तो स्वाभाविक सी बात है कि आप जानना चाहते होंगे कि बिटकॉइन का भविष्य 2023 में क्या होगा।

बिटकॉइन का इतिहास

Bitcoin की शुरुआत 2009 में हुई थी। बिटकॉइन की संख्या अभी 1 करोड़ 91 लाख है जो धीरे धीरे माइनिंग के माध्यम से बढ रही हैं और ये अधिकतम 2 करोड़ 10 लाख तक हो सकती है । बिटकॉइन एक वर्चुअल यानी आभासी मुद्रा है, आभासी मतलब कि दुसरी मुद्राओं की तरह इसका कोई भौतिक स्वरुप नहीं है यह एक डिजिटल करेंसी है।

जो लोग पहले Bitcoin को लेकर पहले नकारात्मक नजरीया रखते थे अब वही लोग इसके पक्ष में बोलते हुए नजर आ रहे हैं । जैसे कि एलान मस्क !

Elon Musk

Elon Musk आज के समय में दुनिया के सबसे अमीर व्यक्ति हैं, एक समय था जब एलन मस्क ने कहा था कि बिटकॉइन पर्यावरण के लिए सही नहीं है। लेकिन फिर उन्होंने ही बिटकॉइन को खरीदा और कभी ना बेचने की बात भी कही थी । और इसके बाद में उन्होंने यह भी कहा था कि अगर बिटकॉइन पर्यावरण के लिए घातक नहीं होगा तो हम बिटकॉइन को भुगतान प्रणाली में स्वीकार करेंगे।

कुछ समय बाद एलन मस्क ने अपनी कंपनी टेस्‍ला के टोटल बिटकॉइन होल्डिंग में से 75 फीसदी को फ्लैट करेंसी में बदल लिया है । जाहिर सी बात है अगर कोई व्यक्ति कभी किसी चीज को खरीदता है तो लाभ लेने के लिए कभी ना कभी उस चीज का कुछ हिस्सा जरूर बेचेगा।

Jeck Dorsey

ट्विटर के पूर्व सीईओ जैक डोर्सी ने नवंबर 2021 में अपने सीईओ पद से ये कहकर इस्तीफा दिया था की मुझे ब्लॉकचेन और बिटकॉइन में भविष्य नजर आ रहा है और मुझे इस पर काम करने के लिए समय चाहिए इसलिए मैं टि्वटर के सीईओ पद से इस्तीफा दे रहा हूं।

(Google) गुगल

गूगल भी अछूता नहीं रहा, गूगल ने 2018 में बिटकॉइन और क्रिप्टो करेंसी के सभी विज्ञापनों पर रोक लगा दी थी। लेकिन अभी हाल ही में गूगल ने यह ऐलान किया है कि वह अपने क्लाउड सर्विस के लिए बिटकॉइन और क्रिप्टो करेंसी को अगले साल से स्विकार करना शुरू कर देगा इसके लिए गूगल ने कॉइनबेस से समझौता भी कर लिया है।

अब आप सोच सकते हैं कि गूगल जैसी कंपनी जब क्रिप्टो करेंसी को पेमेंट के तौर पर स्वीकार करेंगी तब इसका भविष्य कैसा हो सकता है।

भारत सरकार

भारत सरकार ने भी 2018 में बिटकॉइन और क्रिप्टो करेंसी पर बैंकिंग के बैन लगा दिया था, जिसे बाद में कोर्ट का फैसला आने पर हटा दिया गया ! और 2022 में भारत सरकार ने बिटकॉइन और क्रिप्टो करेंसी की ब्लॉकचेन टेक्नोलॉजी को समझते हुए इस पर रेगुलेशन बनाएं और टैक्स के नियम भी लगाए !

अब निवेशक भी बिटकॉइन की तरफ तेजी से बढ़ रहे है

बिटकॉइन को वैश्विक स्तर पर निवेशकों द्वारा अपनाये जाने में तेजी आ रही है। उदाहरण के लिए, लोकप्रिय ब्लॉकचेन वॉलेट के उपयोगकर्ताओं की संख्या में लगातार पूरे 2020 में वृद्धि देखी गई है जो पिछले नवंबर से बहुत तेजी से बढ़ गए हैं।

कंपनी के आंकड़ों के अनुसार वॉलेट्स की वृद्धि पिछले बारह महीनों में 43 मिलियन से बढ़कर 62 मिलियन देखी गई है।

हालांकि, वॉलेट की संख्या, कहानी का सिर्फ एक ही हिस्सा है। बिटकॉइन को कॉइनबेस, स्क्वायर कैश ऐप या PayPal जैसे कस्टोडियन के साथ छोड़कर खुश रहने वाले खुदरा निवेशकों के BTC को खुद के वालेट में रखने में कमी आई है।

उदाहरण के लिए, कैश ऐप के माध्यम से BTC खरीदने वालों की संख्या में वृद्धि जारी है। कैश ऐप का बिटकॉइन राजस्व Q3 2020 में $ 32 मिलियन के सकल लाभ के साथ $ 1.63 बिलियन तक बढ़ गया था जो कि पिछले वर्ष की इसी अवधि में 1,000% की वृद्धि के बराबर है।

कैश ऐप की वृद्धि के कारण, PayPal ने अपने क्रिप्टो रोलआउट को फास्ट-ट्रैक किया है और अब अमेरिका में सभी उपयुक्त ग्राहकों को बिटकॉइन, ईथर, बिटकॉइन कैश और लाइटकॉइन खरीदने, बेचने और रखने की अनुमति प्रदान करता है।

क्रिप्टो की खरीद एक सप्ताह में 20,000 डॉलर तक सीमित कर दी गई है, बेमिसाल उपयोगकर्ता की मांग के कारण जो मूल रूप से घोषित $ 10,000 की दोगुनी है और साल के अंत तक PayPal पर क्रिप्टो लेन-देन पर कोई शुल्क नहीं है।

Q1 2021 में कुछ समय के बाद PayPal के 26 मिलियन मर्चेंट्स क्रिप्टो को पेमेंट के तरीके के रूप में स्वीकार करने में सक्षम होंगे।

जैसा कि बिटकॉइन बुल मार्केट में तेजी जारी है, उस गति का पीछा करने के लिए खुदरा और संस्थागत खरीदारों दोनों के लिए बहुत सारे अवरोध मौजूद हैं। अगर वह मांग बढ़ती रहती है तो इससे और भी अधिक विस्फोटक मूल्य की गतिविधियां हो सकती हैं जैसा कि पिछले बिटकॉइन इतिहास में देखा गया है।

Bitcoin में निवेश क्यों करना चाहिए?

बिटकॉइन एक इलेक्ट्रॉनिक पेमेंट सिस्टम है जो किसी भी केंद्र सरकार के नियंत्रण में नहीं आती है। जबकि लोग प्राचीन मेसोपोटामिया के बाद लगभग 5,000 साल के करीब से, यदि पहले नहीं, सोने को आदान-प्रदान के माध्यम के रूप में इस्तेमाल में ला रहे हैं, इसके तुलना में बिटकॉइन अभी बहुत ही नया है।

एक अनुभवहीन कोशिशों के रूप में, ये अपने लगभग एक दशक लंबे कार्यकाल के दौरान अनियंत्रित मूल्य के उतार-चढ़ाव पर चला है।

2017 के अंत तक क्रिप्टो करेंसी लगभग $ 20,000 प्रति बिटकॉइन तक बढ़ गई, जो 2018 के अंत तक $ 4,000 से भी कम हो गई थी। हाल ही में, क्रिप्टो करेंसी शेयरों और सोने के साथ संतुलन बनाते हुए बढ़ गई।

इसका मूल्य फरवरी के मध्य से मार्च के मध्य तक लगभग आधे से $ 5,000 तक घट गया, जब निवेशक कोरोना वायरस प्रभाव के पहली बार पकड़ में आ रहे थे। लेकिन पांच महीने बाद यह लगभग $ 11,500 तक फिर उछल गया।

ये नाटकीय रूप से कीमतों में उतार-चढ़ाव, जो आप सोने के साथ देखते हैं, उसकी तुलना में अधिक है, और इसलिए डिजिटल मुद्रा को मूल्य संचय करने के रूप में नहीं देखा जा सकता है, जो कुछ लोग कम से कम अभी दावा नहीं करना चाहते हैं।

स्टीफन मैककेन, ओरेगन विश्वविद्यालय में वित्त के एसोसिएट प्रोफेसर, के अनुसार “पूरा क्रिप्टो पारिस्थितिकी तंत्र (Ecosystem) काफी हद तक परिपक्व(Mature) हो गया है।“ “प्रश्न ‘ क्या ये ऐसे चल सकता है’ से बदलकर ‘यह कितना बड़ा हो जाएगा?’ हो गया है।“Cryptocurrency Kya Hai

“फ़िडिलिटी ने हाल ही में एक बिटकॉइन फंड बनाने की योजना की घोषणा की है, हालांकि यह केवल बड़े संस्थागत और मान्यता प्राप्त निवेशकों के लिए ही उपलब्ध है।

फिर भी, इस प्रकार के कदमों से अंततः बिटकॉइन की लिक्विडिटी में वृद्धि हो सकती है और अनियंत्रित मूल्य के उतार-चढ़ाव को smooth किया जा सकता है।

हम आशा करते हैं की आपको हमारा ये लेख “Bitcoin ka Future क्या है” अच्छा लगा होगा। अभी आप भी बिटकॉइन में इन्वेस्ट करना शुरू कर सकते हैं। जिससे आपको भविष्य में काफी लाभ हो सकता है। हमारा ये आर्टिकल अपने दोस्तों के साथ शेयर करना न भूले, ताकि वो भी क्रिप्टो करेंसी के बारे में जानकारी ले सके। धन्यवाद!

FAQs

क्या बिटकॉइन एक अच्छा निवेश है?

फाइनेंस, जो धीरे-धीरे महत्वपूर्ण तेज गति के साथ बढ़ रहा है, आपके डिजिटल एसेट पोर्टफोलियो के लिए विचार करने के लिए एक बेहतरीन क्रिप्टो है। बिटकॉइन पिछले सप्ताह की तुलना में लगभगअपरिवर्तित रहा है, जबकि येरन. फाइनेंस में 86 प्रतिशत से अधिक की वृद्धि हुई है। जिन लोगों ने 2021 की शुरुआत में येअर्ण.

क्या भारत में क्रिप्टोकरेंसी वैध है?

जवाब है- नहीं. इसे ऐसे समझिए, सरकार सिर्फ उस डिजिटल करेंसी (Digital Currency) को लीगल यानी वैध मानती है, जिसे Reserve Bank of India-RBI जारी करता है या करेगा. मतलब अभी जो Bitcoin जैसी Crypto Currency हैं, वो वैध नहीं है.

सबसे बेस्ट क्रिप्टोकोर्रेंसी कौन सी है?

Bitcoin दुनिया की सबसे मशहूर क्रिप्टोकरेंसी है

बिटकॉइन के 1 शेयर की कीमत कितनी है?

Bitcoin कीमत से जुड़ा विवरण

जबकि 24 घंटे में $11.5 B के ट्रेडिंग वॉल्यूम के साथ, Bitcoin की कीमत आज US$16,882.82 है। पिछले 24 घंटे में BTC की कीमत -2.66% है। अभी यह 7 दिनों की अपनी अधिकतम कीमत $18,366.66 से -8.08% है,और 7 दिनों की अपनी न्यूनतम कीमत $16,623.57 से 1.56% है।

क्या बिटकॉइन में पैसा लगाना सुरक्षित है?

हालांकि, इसका मतलब यह भी नहीं है कि यह पूरी तरह से फुलप्रूफ है और इसे हैक नहीं किया जा सकता है- लेकिन हां यह कोई बहुत आसान भी नहीं है. अगर आप बिटकॉइन या दूसरी क्रिप्टोकरेंसीज़ में निवेश कर रहे हैं तो आपको हैकिंग से ज्यादा रिस्क धोखाधड़ी से या खराब निवेश करने से उठाना पड़ सकता है.

क्या बिटकॉइन खरीदना चाहिए?

वैसे तो Bitcoin के अलावा भी काफी सारी ऐसी Crypto Currency है जिनजे अच्छा रिटर्न प्राप्त किया जाता है लेकिन बिटकॉइन जैसा स्टेबल और बेहतरीन रिटर्न शायद ही किसी को मिले. अगर आप भी क्रिप्टो करेंसी में निवेश करना चाहते हो तो बिटकॉइन एक बेहतरीन विकल्प साबित हो सकता है।

बिटकॉइन का मालिक कौन है?

इसका आविष्कार सातोशी नकामोतो नामक एक अभियन्ता ने 2008 में किया था और 2009 में ओपन सोर्स सॉफ्टवेयर के रूप में इसे जारी किया गया था। वर्तमान में लोग कम कीमत पर बिटकॉइन खरीद कर ऊँचे दामों पर बेच कर कारोबार कर रहे हैं।

बिटकॉइन कौन से देश की मुद्रा है?

बिटकॉइन का निर्माण जापान के इंजीनियर सातोशी नाकामोटो के द्वारा किया गया है बिटकॉइन किसी भी देश की मुद्रा नहीं है हालांकि इसका निर्माण जापान में किया गया है लेकिन जापान सरकार का इस मुद्रा पर कोई नियंत्रण या अधिकार नहीं है इसलिए हम कह सकते हैं कि बिटकॉइन किसी भी देश की मुद्रा नहीं है

Information source

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *